कठुआ ज़िले के विद्यालयों में उल्लास पूर्ण ढंग से शिक्षक दिवस का आयोजन

10

“कठुआ ज़िले के विद्यालयों में उल्लास पूर्ण ढंग से शिक्षक दिवस का आयोजन”

आज पूरे भारतवर्ष के साथ साथ कठुआ ज़िले में भी शिक्षक दिवस बहुत ही उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। ५ सितंबर का दिन डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी की जन्म तिथि भी है।
जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश में भी आज से शिक्षक दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ हो गया है और यह कार्यक्रम १० सितंबर तक भिन्न गतिविधियों के साथ पूरे प्रदेश में मनाया जाएगा। जिसमें विद्यार्थियों द्वारा अपने प्रिय शिक्षकों का अभिनय करना, डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी को श्रद्धासुमन अर्पित करना आदि सम्मिलित है।
आज श्रीनगर में जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश के उपराज्यपाल श्री मनोज सिन्हा जी ने शिक्षक दिवस कार्यक्रम का शुभारंभ किया जिसमें उन्होंने उल्लेखनीय योगदान देने वाले शिक्षा विभाग के सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों को पुरस्कृत भी किया। कठुआ के माननीय मुख्य शिक्षा अधिकारी श्री प्रकाश लाल थापा जी ने भी संपूर्ण ज़िले के शिक्षकों को आज के इस पावन दिवस पर बहुत-बहुत शुभकामनाएं प्रदान की और भविष्य में शिक्षकों से और अधिक आशा की कि वे पहले ही उत्कृष्ट योगदान अपने-अपने विद्यालयों में और समाज में दे रहे हैं और बढ़-चढ़कर इस तरह की गतिविधियों और शैक्षणिक क्रियाकलापों में और आगे आएंगे।
कठुआ ज़िले के विद्यालयों में शिक्षक दिवस पर कई कार्यक्रम किए गए जिसमें सबसे पहले डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई और उन्हें सादर नमन किया गया। इस अवसर पर विद्यार्थियों तथा शिक्षकों ने उनके प्रति अपने भाव प्रकट किए और उनके बताए मार्ग पर चलने का संकल्प भी किया।
आज विद्यार्थियों ने अपने अपने शिक्षकों के प्रति अपनी भावनाएं व प्रेम ग्रीटिंग कार्ड से, मिष्ठानों से तथा पुष्प अर्पित करते हुए प्रकट किया।
विद्यार्थियों ने अपने अपने प्रिय शिक्षकों का रोल निभाते हुए पूरे विद्यालय के कार्यभार को संभाला और कक्षाओं को उनकी तरह लेने का प्रयास भी किया। इससे विद्यार्थियों में लीडरशिप की भावना को बढ़ावा मिलता है और विद्यार्थियों के अंदर छिपी हुई प्रतिभाओं को निखारने का अवसर भी मिलता है।
१० सितंबर तक चलने वाला “गुरु उत्सव” अपने आप में पहले दिन से ही अभूतपूर्व सिद्ध हो रहा है।