स्वछता मिशन के तहत चंडीगढ़ नगर निगम द्वारा अप्रैल के महीने में तीन आर यानी कि रीसायकल रिव्यूज़ और रिड्यूस के तहत एक मुहिम चलाई गई

462

स्वछता मिशन के तहत चंडीगढ़ नगर निगम द्वारा अप्रैल के महीने में तीन आर यानी कि रीसायकल रिव्यूज़ और रिड्यूस के तहत एक मुहिम चलाई गई जिसमे नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा वेस्ट प्रोडक्ट बनाए गए और लोगों को जागरुक किया गया कि अपने घर में पढ़े सॉलिड वेस्ट को किस तरह से भी यूज़ किया जा सकता है जिसका डिस्प्ले सेक्टर 17 निगम कार्यालय में किया गया।चंडीगढ़ नगर निगम के कमिश्नर जितेंद्र यादव ने बताया कि नगर निगम की टीम के तहत सॉलिड वेस्ट प्रोडक्ट स्कोर इस्तेमाल में कैसे लाया जा सकता है इसको खुद निगम के कर्मचारियों द्वारा कुछ तैयार किए गए प्रोडक्ट्स द्वारा दिखाया गया और अब इसी तरह लोगों को जागरुक करने के लिए चंडीगढ़ के स्कूल में जाया जाएगा और वह बच्चों को बताया जाएगा कि किस तरह से घर की सजावट के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।  उन्होंने कहा कि वैसे तो चंडीगढ़ के लोग खुद ही साफ सफाई के लिए जागरुक है लेकिन किस तरह से अपने वेस्ट मटेरियल को इस्तेमाल करना है इसके लिए भी जागरुक किया जाएगा।

पानी की बर्बादी पर बोलते हुए निगम कमिश्नर जतिन्द्र यादव ने कहा कि निगम ऐसी सूरत में किसी को नही बक्शेगी उदहारण के तौर पर उन्होंने कहा कि अप्रैल के महीने में 690 नोटिस भेजे गए है और 90 चालान भी किये गये है ताकि लोगो को पता चले कि पानी को न बचाने पर पैसो की भरपाई भी करनी पड़ सकती है ।वहीं 24 घंटे पानी देने के सवाल पर कहा कि नगर निगम कई प्रोजेक्ट्स बना रही है जिसके तहत लोगो को जल्द ही 24 घंटे पानी मोहैया करवाया जाएगा ।साथ ही उन्होंने जानकारी भी दी कि एसटीपी के जरिये सबसे ज्यादा पानी रीसायकल करने में  चंडीगढ़ अवल है ।
निगम की कर्मचारी ने बताया कि अखबार ,शादियों ले कार्ड,पेड़ो और अन्य कई वेस्ट चीजे जिन्हें अक्सर हम फेंक देते है उसे एक सजावट के प्रोडक्ट का आकार कर्मचारियों द्वारा किया गया और हर किसी ने अपनी क्रिएटिविटी के अनुसार चीजे बनाई गई ।उन्होंने बताया कि इसमें कर्मचारियों में न केवल अपने काम के समय यह बनाया बल्कि घर जाकर भी बनाया गया ताकि एक बेहतर संदेश लोगो तक स्वच्छता का पहुंचे।