भाजपा पार्षदों के दो शिष्टमंडल पंजाब के राजयपाल और चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी सिंह बदनौर से मिले और उन्हें ज्ञापन सौपा

561

 

चंडीगढ़ प्रशासक एवं पंजाब के राज्यपाल वी.पी. सिंह बदनोर ने कहा कि चंडीगढ़ पेरीफेरी एक्ट के तहत सलाहकार परिमल राय के साथ विचार किया जाएगा और कुछ नीतियां तय की जाएंगी। जबकि फ़िलहाल एडवाइजर अभी शहर से बाहर हैं। इसलिए उनके आने के बाद इस मामले पर विस्तृत बातचीत करने के बाद किसी निष्कर्ष पर पहुंचा जाएगा। दूसरी तरफ प्रशासक ने कहा कि प्रशासन से नगर निगम को मिलने वाली वित्तीय साहयता पर बातचीत कर आगे बढ़ा जाएगा। उनका कहना था कि चंडीगढ़ भाजपा की तरफ से लिखित रूप में पत्र मिला है, जिसमें निगम की कमजोर वित्त व्यवस्था के बारे में जानकारी दी गई है।  उन्होंने ने कहा कि इस मामले में निगम के मेयर की तरफ से भी यदि लिखित रूप में यह बात आए तो इसका हल निकालने का प्रयास किया जाएगा। 

बाइट : वीपी सिंह बदनौर ( राजयपाल )

प्रदेश भाजपाध्यक्ष संजय टंडन ने कहा कि प्रसाशक ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि जो उचित कदम है वह उठाये जाएंगे और सलाहकार के साथ बैठकर बातचीत करने के बाद कुछ नीतियां तय की जाएंगी।   

बाइट : संजय टंडन 

और वही चंडीगढ़ पेरीफेरी एक्ट में संशोधन करने के मामले में किसानों का शिष्टमंडल चंडीगढ़ भाजपा के उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी के नेतृत्व में राज्यपाल से मिला। इन्होंने गांवों में लालडोरा की सीमा बढ़ाने और खुड्डा अलीशेर में गत माह की 28 तारीख को तोड़े गए निर्माणप से प्रभावित पीडि़तों की समस्या को लेकर प्रशासक से बातचीत की।  भट्टी ने कहा कि उनकी मांग पर नगर प्रशासक ने आश्वासन देते हुए कहा कि इन मामलों का समुचित हल निकालने का प्रयास किया जाएगा।