पंजाब यूनिवर्सिटी के एन.एस.एस स्वयंसेवकों को दिखाई गई शहीद भगत सिंह की जीवनी पर फिल्म

18

चंडीगढ़: 23 मार्च 2022 को पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ के एन.एस.एस स्वयंसेवकों को शहीदी दिवस के उपल्क्ष में भगत सिंह के जीवन पर एक फिल्म दिखाई गई। इस फिल्म को दिखाने का मुख्य उद्देश्य यह था कि हमारे देश के सभी युवाओं को इस बात का पता चल सके कि भगत सिंह व उसके साथियों के द्वारा किस तरह से भारत को आजाद करवाने के लिए कठिन संघर्ष किया गया और हमारा भारत किन मुश्किल हालातो में आजाद हुआ। इसके साथ ही सभी स्वयं सेवकों को कार्यक्रम के अंत में पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ के सभी कार्यक्रम अधिकारियों के द्वारा स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए यह कहा गया कि हमें शहीद भगत सिंह के द्वारा बताए गए मार्ग पर चलने की जरूरत है क्योंकि आज हमारे देश का युवा काफी प्रगतिशील है आज सभी युवाओं को भगत सिंह के जीवन से प्रेरणा लेते हुए अपने जीवन में आगे बढ़ने की जरूरत है। आज अगर हम अपने इन महान स्वतंत्रता सेनानियों के जीवन को ध्यान में रखते हुए भारत के विकास में अपना योगदान देंगे तो इससे निश्चित तौर पर भविष्य में भारत विश्व शक्ति जरूर बनेगा। इस अवसर पर एन.एस.एस के कार्यक्रम अधिकारी डॉ.रोहित कुमार शर्मा, डॉ. लोकेश कुमार, डॉ. विवेक कपूर, डॉ. रिचा शर्मा व डॉ. भारती गर्ग आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम के उपरांत भगत सिंह के जीवन पर स्वयंसेवकों के लिए एक क्विज प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। इसके साथ ही दिनांक 24 मार्च 2022 से यूनिवर्सिटी के अंदर सात दिवसीय विशेष शिविर की शुरुवात भी की जा रही है। सभी स्वयं सेवक इस कैंप में भाग लेने ले लिए काफी उत्साहित हैं क्योंकि कोरोना काल के बाद पंजाब यूनिवर्सिटी में अब इस वर्ष साथ दिवसीय कैंप का आयोजन हो रहा है। सभी कार्यक्रम अधिकारियो के द्वारा इसकी तैयारियां पूर्ण रूप से मुकम्मल कर ली गई हैं।