नेशनल होमगार्ड एसोसिएशन का प्रदर्शन

448

नेशनल होमगार्ड एसोसिएशन के नेशनल चेयरमैन अविनाश सिंह शर्मा के नेतृत्व में नेशनल होमगार्ड एसोसिएशन के हरियाणा प्रदेश के हजारों हजारों की संख्या में होमगार्ड के जवान वर्दी में हाथों में तिरंगा लेकर भारत माता की जय एवं वंदे मातरम के नारों के साथ अपनी मांगों के लिए हाथों में तख्तियां लिए हुए चंडीगढ़ के सेक्टर 26/ 28 की लाइट के पास से मध्य मार्ग से एक विशाल रैली में गृह सचिव हरियाणा के आवास का घेराव के लिए इकट्ठे हुए । इतने में ही चारों ओर से चंडीगढ़ पुलिस जवानों को घेर कर घुड़सवार चंडीगढ़ के पुलिस जवान घोड़े दौड़ा-दौडा़ कर जवानों में गुलाम भारत कि अंग्रेजों वाली तानाशाही को दिखा दिया। हाथों में तिरंगा लिए जवानों के हाथो पर लाठियां बरसा कर जबरन तिरंगा को छीन कर पैरों के नीचे जमीन पर गिरा दिया । तिरंगा का अपमान किया गया।हाथों में तिरंगा लिए जवानों पर अंधाधुंध लाठीचार्ज की गई । हाथों में तिरंगा लिए जवानों के हाथों में भी चोट आई।जो जवान देश भक्ति की बात भारत माता की जय के नारे लगा रहे थे ।उन्हें बुरी तरह से लाठियों से मारकर घायल कर दिया गया । जवानों के नारे थे सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को लागू करो। सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का सम्मान करो । आजाद भारत में तानाशाही बंद करो लेकिन आज गुलाम भारत का दृश्य जो चंडीगढ़ प्रशासन चंडीगढ़ पुलिस ने किया है ।यह पूरे देश के लिए बहुत दुखद और शर्मनाक घटना होगी । 2015 में सर्वोच्च न्यायालय भारत से आए आदेश समान कार्य समान वेतन को देश के विभिन्न प्रदेशों में चंडीगढ़ पंजाब हिमाचल अन्य प्रदेशों में लागू कर दिया। लेकिन आज भी हरियाणा सरकार जो केंद्र में भी भाजपा की सरकार और प्रदेश में भी भाजपा की सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को कूड़े के ढेर में डाल दिया। 3 अप्रैल 3 अप्रैल से जवान रैली मैदान में सैकड़ों की संख्या में धरना पर बैठे हैं लेकिन हरियाणा सरकार के कानों पर जूं भी नहीं रेंग रही थी मजबूर होकर जवान।आज जब सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को लागू करवाने की बात के लिए गृह सचिव को मांग पत्र देकर गुहार लगाने वाले थे।उससे पहले ही उनकी आवाज को रौंद दिया गया जवानों को गाड़ियों में गिरफ्तार कर कर के विभिन्न थानों में ले जाकर बंद किया गया ।बुरी तरह से मारपीट किया गया। एक भय का माहौल देने का काम किया गया चंडीगढ़ पुलिस के लिए चंडीगढ़ प्रशासन के लिए बहुत ही शर्मनाक घटना है ।लाखों लोगों की शहादत के बाद आजाद हुए भारत में इस तरह की घटना की जितनी भी निंदा की जाए कम होगी ।भय का माहौल कायम कर दिया ।
संगठन के महामंत्री कमल किशोर शर्मा ने कहा कि भारत सरकार एवं हरियाणा सरकार जवानों को भूखा रख नक्सल बनाने का प्रयास कर रही है।जवानों में आज भी देश भक्ति कूट-कूट कर भरी है। लेकिन ऐसा कब तक चलेगा। सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बात करती है गर्भवती महिला जवानों के मातृत्व अवकाश और भत्ता की मांग में इकट्ठा हुए जवानों पर लाठीचार्ज किया गया। महिला जवानों को भी गिरफ्तार करके थाने में बंद कर दिया गया सरकार की कथनी और करनी में अंतर है संगठन यह तानाशाही बर्दाश्त नहीं करेगा।