“राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में दो दिवसीय कला एवं चित्रकला प्रतियोगिता का समापन”

53
  • राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय (एच एस एस)बुद्धि में दो दिवसीय कला एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम २४ और २५ फरवरी, २०२२ को सूचना और प्रसारण विभाग (भारत सरकार) द्वारा आयोजित किया गया था। ‘आज़ादी का अमृत महोत्सव’ पहल के तहत आयोजित कार्यक्रम में, जी एच एस एस, बुद्धि के भिन्न कक्षाओं के लगभग २०० छात्रों ने भाग लिया और कई विषयों जैसे कि कोविड सुरक्षा, महिला सशक्तिकरण, स्वच्छता, समानता, विद्यालयों का दोबारा खुलना और समाज में समानता, आदि विषयों पर चित्रकला प्रतियोगिता करवाई गई।
    कार्यक्रम के दूसरे दिन आज श्री पीएल थापा, मुख्य शिक्षा अधिकारी जिला कठुआ, सुश्री किरण सब_ इंस्पेक्टर (एसएचओ कठुआ), सुश्री सुषमा देवी ( बीडीसी सदस्य)और श्री ओम प्रकाश शर्मा (सरपंच) बुद्धि आदि गणमान्यों ने कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई।
    राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, बुद्धि के छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। श्री ओम प्रकाश शर्मा, प्रधानाचार्य उच्च माध्यमिक विद्यालय बुद्धि ने अपने स्टाफ सदस्यों के साथ अतिथियों का स्वागत किया और उन्हें फूलों के गुलदस्ते भेंट किए।
    मुख्य शिक्षा अधिकारी, कठुआ ने विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए और अपने अभिभाषण
    में उन्होंने नई शिक्षा नीति (एन ई पी २०२०) के अनुरूप काम करने पर जोर दिया और उन छात्रों के चहुंमुखी विकास का आश्वासन दिया जो हाल ही में लगभग दो वर्षों के अंतराल के बाद विद्यालय आने में सक्षम हुए थे।
    जिला शिक्षा अधिकारी जी ने स्कूल परिसर में एक सूचना एवम् संचार प्रौद्योगिकी प्रयोगशाला का भी उद्घाटन किया।
    सब इंस्पेक्टर किरण जी ने नशीली दवाओं के दुरुपयोग से बचाव, महिला सशक्तिकरण पर एक संक्षिप्त भाषण भी दिया और छात्रों को नकारात्मक लोगों और विचारों से प्रभावित होने के बजाय स्वस्थ प्रथाओं का पालन करने और अपने प्रयासों से समाज को अधिक सुंदर बनाने के लिए प्रेरित किया।
    बी डी सी सदस्य सुषमा देवी जी ने छात्रों को शुभकामनाएं दीं और परीक्षा के नजदीक आने पर उन्हें अपनी पढ़ाई के लिए अधिक से अधिक समय देने के लिए प्रेरित किया।
    श्री ओम प्रकाश, प्रधानाचार्य उच्च माध्यमिक विद्यालय,बुद्धि ने भी इस अवसर पर बात की और सभी प्रतिभागियों को अच्छे प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने आने वाले गणमान्य व्यक्तियों का भी आभार व्यक्त किया और कहा कि छात्र इस तरह के आयोजनों और गणमान्य व्यक्तियों के आशीर्वचनों से प्रेरणा लेते हैं।