हरपथ ऐप” पर प्राप्त शिकायतों का जल्द से जल्द निपटान करें विभाग, मुख्यमंत्री ने दिए निर्देश।

368
Haryana Chief Minister Manohar Lal Khattar

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य में सड़कों से संबंधित “हरपथ ऐप” पर प्राप्त शिकायतों के निपटान के लिए 9 6 घंटों की समयरेखा का सख्ती से पालन करने के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार हरियाणा को एक पॉट-होल फ्री स्टेट बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल सोमवार को चंडीगढ़ में “हरपथ ऐप” के कामकाज की समीक्षा करने के लिए एक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। लोक निर्माण (भवन और सड़क) मंत्री, राव नरबीर सिंह और शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन भी बैठक में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा पॉट-होल मुक्त और वाहन योग्य बनाने के उद्देश्य से हरपथ ऐप लॉन्च किया गया है। संबंधित विभागों को न केवल ऐप पर प्राप्त शिकायतों को तुरंत लेना चाहिए बल्कि निर्धारित समय सीमा के भीतर इसे हल भी करना चाहिए। उन्होंने कहा, इससे न केवल लोगों को अच्छी सड़कों की सुविधा प्रदान करने में मदद मिलेगी बल्कि सरकार के कामकाज में उनके विश्वास को भी और बढ़ाया जा सकेगा। राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों की स्थिति की समीक्षा करते समय मुख्यमंत्री ने एचएसएएमबी को सड़कों की गुणवत्ता में सुधार के लिए प्रभावी उपाय करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि नियमित रूप से बोर्ड द्वारा गुणवत्ता जांच की जानी चाहिए ताकि ग्रामीण सड़कों की गुणवत्ता को बनाए रखा जा सके। बैठक में सूचित किया गया कि “हरपथ ऐप” पर एक अनूठी विशेषता भी उपलब्ध कराई गई है, जिसके अनुसार यदि शिकायतकर्ता ने शिकायत को किसी विभाग को गलत तरीके से संबोधित किया है, तो इसे अन्य संबंधित विभाग में स्थानांतरित किया जा सकेगा। बैठक में सूचित किया गया कि अब विभाग राज्य में पॉट-होल के प्रभावी समाधान के रूप में स्प्रे इंजेक्शन कॉल्ड मिक्स टैक्नीक अपनाने पर विचार कर रहा है।